Monday, 15 October 2018

विशाल चुनरी यात्रा


इंदौर : भाजपा विधायक सुदर्शन गुप्ता द्वारा पिछले 9 वर्षों से बड़ा गणपति से बिजासन माता मंदिर तक विशाल चुनरी यात्रा निकाली जाती है। इस वर्ष चुनाव आचार संहिता के चलते विधायक श्री सुदर्शन गुप्ता चुनरी यात्रा में प्रत्यक्ष रुप से सम्मिलित नहीं हो पाए और इसीलिए विधायक के समर्थक और साथी संजय कौलपे के संयोजन में चुनरी यात्रा निकाली गई। हर वर्ष किसी ना किसी सामाजिक उद्देश्य को लेकर चुनरी यात्रा निकाली जाती है। इस बार सामाजिक समरसता के उद्देश्य को लेकर चुनरी यात्रा निकाली गई। चुनरी यात्रा के लिए बड़ा गणपति एवं एरोड्रम थाने के सामने दो विशालकाय मंच बनाए गए थे। चुनरी यात्रा बड़ा गणपति से प्रारंभ होकर रामचंद्र नगर चौराहा,कालानी नगर ,एरोड्रम थाना होती हुई बिजासन माता मंदिर पहुंचकर समाप्त हुई।  जहां पर लगभग 2 किलोमीटर लंबी चुनरी बिजासन माता को अर्पित की गई। चुनरी यात्रा में विधायक सुदर्शन गुप्ता तो प्रत्यक्ष रूप से उपस्थित नहीं हुए किंतु धार्मिक सद्भावना के चलते भाजपा के नगर अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा,महापौर मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ सहित अनेक भाजपा नेता  व पार्षदों ने माता भक्तों का स्वागत किया। वहीं भाजयुमो के नेता व  इंदौर में ऐतिहासिक महादंगल का आयोजन कराने वाले धीरज ठाकुर के नेतृत्व में बड़ी संख्या में युवाओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। साथ ही सिरपुर से महेश चौधरी के नेतृत्व में भी बड़ी संख्या में युवाओं का जत्था माता के जयकारों के साथ उपस्थित हुआ। बिजासन माता की चुनरी लाखों सितारों से जड़ी हुई थी, जिसे सैकड़ों कारीगरों ने अपने हाथों से सजाया था। मार्ग में अनेक मंचों से चुनरी यात्रा का व्यापारिक एवं रहवासी संगठनों ने स्वागत किया। चुनरी यात्रा में उपस्थिति का आलम यह था कि जब यात्रा का एक सिरा कालानी नगर चौराहे को भी पार नहीं कर पाया था वही चुनरी यात्रा का दूसरा सिरा बिजासन माता मंदिर पर पहुंच चुका था। चुनरी यात्रा में चुनाव आचार संहिता का भी प्रभाव दिखाई दिया।इस यात्रा में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता उपस्थित नहीं हो पाए किन्तु विधायक सुदर्शन गुप्ता की मेहनत रंग लाई और चुनरी यात्रा हर वर्ष की तरह पूरे जोश खरोश के साथ निकली।

Wednesday, 7 February 2018

दर्शन भगवान श्री तिरुपति बालाजी के


ऐसे दर्शन तिरुपति जाने पर भी नहीं हो पाते । आप तिरुमाला तिरुपति बालाजी के दर्शन करने बस, ट्रेन या हवाई जहाज से भी जाएं, तो भी शायद इतने अच्छे दर्शन न कर पाएँ ।आप अपने परिवार के सभी भाग्यशाली सदस्यों के साथ घर बैठे - बैठे भगवान श्री तिरुपति बालाजी के केसर से स्नान होते हुए शानदार दर्शन कीजिए।